जिले में मिले दो और कोरोना संक्रमित – covid 19 लक्षण व उपाय in hindi

कोरोना: शरीर में दिख रहे ये 8 लक्षण तो समझ लें आपको चाहिये मदद

जिले में मिले दो कोरोना पॉजिटिव मरीज

बाड़मेर जिले, में सिवाना उपखंड क्षेत्र, समदड़ी तहसील के गांव, ढीढस मे कोरोना  संक्रमित व्यक्ति पाए जाने पर जिला, कलेक्टर विश्राम मीणा द्वारा कर्फ्यू का ऐलान! साथ ही बाड़मेर जिले में 2 और पॉजिटिव मरीज सामने आने से जिले में कुल कोरोना संक्रमित व्यक्तियों की संख्या हुई – 7,  Covid-19 ya corona (कोरोना )

रात को जैसे ही गांव के व्यक्ति के संक्रमित होने का पता चलते ही, गांव में भय का माहौल रहा इसके चलते सुबह से कोई भी ग्रामीण अपने घरो से बाहर नही आए!
आज सुबह जल्दी प्रशासन की ओर से कर्मचारियों के आने का सिलसिला शुरू हुआ, जो शाम तक ऐसे ही चलता रहा जिसमें सुबह तड़के स्थानिय पटवारी व anm और ग्राम पंचायत कर्मचारियों ने मोर्चा संभाला साथ ही ग्रामीणो को एहतियात बरतने की सलाह दी!

मुंबई धारावी रेड जोन से गाव आया 

राजाराम पुत्र मंगलाराम मूल रूप से गिराध की धाणी पाली का रहने वाला है, ढीढ़स मे ईसका ससुराल है! यह मुंबई के धारावी से यह और गाव के ही अन्य तीन और व्यक्ति साथ-साथ बस द्वारा 07/05/2020 को रात 11 बजे अपने घर ढीढस पहुँचे!

सुबह होते कार्यरत एएनएम सामूजा व ड्यूटी पर तैनात स्कूल के कर्मचारी नरसिंह राम पटेल, भुंड़ाराम, व गोबर राम मीणा, उनके घर पहुंचे और उनको होम कोरेन्टाईन किया गया था! उसके बाद मुंबई धारावी रेड जोन एरिया से आने के कारण संक्रमण की संभावना ज्यादा होने के चांस थे! इसलिए सब को 9 मई को समदड़ी भेज दिया गया

वहा बालोतरा की चिकित्सा विभाग की टीम द्वारा उसका सैंपल लिया गया और उनको आइसोलेशन में भेजा गया! उनमे से एक राजाराम पुत्र मंगलाराम ही कोरोना संक्रमित पाया गया!

स्वास्थ्य अधिकारी

उस के बाद मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉक्टर कमलेश चौधरी मौके पर पहुंचे! और बताया की समदड़ी क्षेत्र के ढींढस व मजल दोनों गवों से कुल 2 संक्रमित पाए गए हैं! जिनका सैंपल 9 मई को लिया गया था, दोनों संदिग्ध मुंबई के धारावी से बस के माध्यम से आए थे!

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉक्टर कमलेश चौधरी ने बताया कि कॉन्ट्रैक्ट ट्रेसिंग पर उसके कोई लोकल कांटेक्ट सामने नहीं आए हैं! परंतु ढींढस में वह अपने परिवार के पांच सदस्यों के संपर्क में आया था!  जिनके सैंपल लेने के लिए मेडिकल कॉलेज के चिकित्सा विभाग की टीम को कहा गया है!

साथ ही मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ने संबंधित प्रभावित क्षेत्र का दौरा किया! वहां पर कार्यरत सभी चिकित्सा विभाग की टीमों को स्क्रीनिंग व सेंपलिंग्स लेने हेतु निर्देशित किया! व स्थानीय लोगों को सख्त होम क्वारंटीन के लिए पाबंद करने के लिये विभाग की टीमों को निर्देशित किया!

कोरोना: शरीर में दिख रहे ये 8 लक्षण तो समझ लें आपको चाहिये मदद

कलेक्टर एसपी पहुंचे ढीढस

जिला कलक्टर विश्राम मीणा, एवं पुलिस अधीक्षक आनंद शर्मा, सिवाना उपखंड अधिकारी प्रमोद सिरवी, एवं अन्य अधिकारियों ने ढीढस पहुंचकर कोरोना की रोकथाम संबंधित कार्यो का निरीक्षण किया! उन्होंने चिकित्सा विभाग के अधिकारियों को पूरे गाव की स्क्रीनिंग करने के आदेश दिए! और बाहर से आए प्रवासियों के होम कोरेन्टाईन के बारे में जानकारी लेते हुए कड़ाई से इसकी पालना करवाने के निर्देश दिए!

कोरोना संक्रमित पाए जाने के चलते जीरो मोबिलिटी कर्फ्यू घोषित

उन्होंने कहा कि कोरोना से निपटने के लिए लॉक डाउन की पालना करवाने के साथ, किसी तरह की लफरवाही नहीं बरती जाएं! जिला कलक्टर विश्राम मीणा एवं पुलिस अधीक्षक आनंद शर्मा ने सरपंच राजेंदर सिंह व ग्रामीणों से संक्रमण प्रभावित क्षेत्र में पुलिस प्रशासन तथा चिकित्सा विभाग की ओर से की जा रही व्यवस्थाओं में सहयोग करने का अनुरोध किया!

साथ ही पूरे गांव को सैनिटाइज करने की बात कही इस दौरान उपखंड अधिकारी प्रमोद सिरवी, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक नरपतसिंह भाटी, तहसीलदार राकेश जैन, पुलिस उप अधीक्षक सुभाषचन्द्र खोजा समेत विभिन्न विभागीय अधिकारी उपस्थित रहे!

इधर, ढीढस में कोरोना का पॉजिटिव मरीज सामने आने के बाद कर्फ्यू लगाने के साथ लोगों की आवाजाही पर पूर्णतया रोक लगा दी गई है! साथ ही पर्याप्त मात्रा में पुलिस जाब्ता भी तैनात किया गया है!

Best hindi Blog

लूणी नदी जीवनदायिनी या अभिशाप । Luni River
सूचना का अधिकार (RTI)
उपभोक्ता संरक्षण अधिनियम सरल परिचय
आयुर्वेद दुनिया की सबसे पुरानी चिकित्सा प्रणाली है
तुलसी के बारे में जानकारी और फायदे औषधीय पौधे के
डायरेक्ट सेलिंग बिज़नेस मॉडल, नेटवर्क मार्केटिंग क्या है

कोरोना वायरस के क्या हैं लक्षण

कोरोना वायरस के संक्रमित व्यक्ति के शुरुआती लक्षण नही होते है!
विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के अनुसार वायरस के शरीर में पहुंचने और लक्षण दिखने मे 14 दिनों तक का समय लग सकता है!
कोरोना वायरस फेफड़ों को संक्रमित करता है. इसके दो मूल लक्षण होते हैं बुख़ार और सूखी खांसी. कई बार इसके कारण व्यक्ति को सांस लेने में भी दिक्कत आती है!
कोरोना के कारण होने वाली खांसी आम खांसी नहीं होती है इस मे लगातार खांसी होती है! और 24 घंटों के भीतर कम से कम तीन बार इस तरह के दौरे पड़ सकते हैं !

कोरोना वायरस के लक्षण

1 से 3 दिन -बुखार, गले में दर्द
4 दिन –  बुखार, गले में दर्द, सिर दर्द, दस्त लगना, आवाज भारीपन, 5दिन थकान, और मांसपेशियों में दर्द
6 दिन – हल्का बुखार, उल्टी दस्त, सिर दर्द, सांस में तकलीफ, गिली सूखी खांसी
7 दिन –  तेज बुखार, उल्टी दस्त, शरीर में दर्द, तेज खांसी
8 दिन – सांस में तकलीफ, बुखार से अस्त-व्यस्त
फिर अस्पताल मे भर्ती करना पड़ता है

कोरोना वायरस से बचने के उपाय

विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक़ साफ़-सफ़ाई का ध्यान रखना सबसे ज़रूरी है!
अपने हाथो को अच्छी तरह साबुन से धोए
अल्कोहॉल बेस्ड सैनेटाइज़र को हाथों पर अच्छी तरह लगाएं
अपनी आंख, नाक मुंह को छूने से बचें
छींक ते समय रुमाल या टिसु का उपयोग करे
सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करे साथ ही दो मीटर दूरी बनाये रख 
जब तक बहुत ज़रूरी ना हो घर से बाहर ना निकलें
मिलते समय हाथ न मिलाये नमस्ते का प्रयोग करे
साधारण मास्क का इस्तेमाल करते है तो आप को पूर्ण सुरक्षा नही मिलती और लम्बे समय तक इस का इस्तेमाल न करे

कोरोना वायरस के क्या हैं लक्षण और कैसे कर सकते हैं बचाव

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *